भजन की नहीं विचारी रे थारी म्हारी कर कर उमर खो दी सारी रे Lyrics, Video, Bhajan, Bhakti Songs
भजन की नहीं विचारी रे थारी म्हारी कर कर उमर खो दी सारी रे Lyrics, Video, Bhajan, Bhakti Songs

भजन की नहीं विचारी रे थारी म्हारी कर कर उमर खो दी सारी रे लिरिक्स

Bhajan Ki Nahi Vichari Re

भजन की नहीं विचारी रे थारी म्हारी कर कर उमर खो दी सारी रे लिरिक्स (हिन्दी)

भजन की नहीं विचारी रे,
भजन की नाय विचारी रे,
थारी म्हारी कर कर,
उमर खो दी सारी रे।।

छंद तन की शोभा निवण हैं,
धन की शोभा दान।
वचन की शोभा मधुरता,
मन की शोभा ज्ञान।
मन की शोभा ज्ञान,
ध्यान ईश्वर का धरणा।
जीणा हैं दिन चार,
भलाई जुग में भरणा।
सत्पुरुषों के बीच में,
वार्ता जीवे जिनकी।
राम बक्स गुण कहत,
सील से शोभा तन की।

श्लोक भजन बिना नहीं मानवी,
पशु कहो चाहे भूत।
लादू नाथ सत्संग बिना,
ये जम मारेला जूत।।


भजन की नहीं विचारी रे,
भजन की नाय विचारी रे,
थारी म्हारी कर कर,
उमर खो दी सारी रे।।


नव दस मास गर्भ के माही,
घणो दुखयारी रे,
अब तो बायर काड,
भक्ति करसू थारी रे।
भजन की नाय विचारी रे,
थारी म्हारी कर कर,
उमर खो दी सारी रे।।


बाल पणे में लाड लडायो,
माता थारी रे,
भरी जवानी भयो दीवानों,
तिरिया प्यारी रे।
भजन की नाय विचारी रे,
थारी म्हारी कर कर,
उमर खो दी सारी रे।।

See also  हो जड़ चेतन के माली Lyrics | Bhajans | Bhakti Songs


कोड़ी कोड़ी माया जोड़ी,
पड्यो हजारी रे,
धर्म बिना थू रितो जासी,
कोल विचारी रे।
भजन की नाय विचारी रे,
थारी म्हारी कर कर,
उमर खो दी सारी रे।।


जब थने कहता बात धर्म की,
लागे खारी रे,
कोड़ी कोड़ी खातिर लेवे,
राड़ उधारी रे।
भजन की नाय विचारी रे,
थारी म्हारी कर कर,
उमर खो दी सारी रे।।


रुक गया कंठ दसू दरवाजा,
मण्ड गी ग्यारी रे,
कहत कबीर सुणो भाई सन्तों,
करणी थारी रे।
भजन की नाय विचारी रे,
थारी म्हारी कर कर,
उमर खो दी सारी रे।।


भजन की नही विचारी रे,
भजन की नाय विचारी रे,
थारी म्हारी कर कर,
उमर खो दी सारी रे।।

स्वर श्री ओमदास जी महाराज।
प्रेषक रामेश्वर लाल पँवार आकाशवाणी सिंगर।
9785126052

Download PDF (भजन की नहीं विचारी रे थारी म्हारी कर कर उमर खो दी सारी रे)

Download the PDF of song ‘Bhajan Ki Nahi Vichari Re ‘.

Download PDF: भजन की नहीं विचारी रे थारी म्हारी कर कर उमर खो दी सारी रे

Bhajan Ki Nahi Vichari Re Lyrics (English Transliteration)

bhajana kI nahIM vichArI re,
bhajana kI nAya vichArI re,
thArI mhArI kara kara,
umara kho dI sArI re||

ChaMda tana kI shobhA nivaNa haiM,
dhana kI shobhA dAna|
vachana kI shobhA madhuratA,
mana kI shobhA j~nAna|
mana kI shobhA j~nAna,
dhyAna Ishvara kA dharaNA|
jINA haiM dina chAra,
bhalAI juga meM bharaNA|
satpuruShoM ke bIcha meM,
vArtA jIve jinakI|
rAma baksa guNa kahata,
sIla se shobhA tana kI|

shloka bhajana binA nahIM mAnavI,
pashu kaho chAhe bhUta|
lAdU nAtha satsaMga binA,
ye jama mArelA jUta||

See also  साई तेरी शिरडी के कुछ अजब नजारे है | Lyrics, Video | Sai Bhajans


bhajana kI nahIM vichArI re,
bhajana kI nAya vichArI re,
thArI mhArI kara kara,
umara kho dI sArI re||


nava dasa mAsa garbha ke mAhI,
ghaNo dukhayArI re,
aba to bAyara kADa,
bhakti karasU thArI re|
bhajana kI nAya vichArI re,
thArI mhArI kara kara,
umara kho dI sArI re||


bAla paNe meM lADa laDAyo,
mAtA thArI re,
bharI javAnI bhayo dIvAnoM,
tiriyA pyArI re|
bhajana kI nAya vichArI re,
thArI mhArI kara kara,
umara kho dI sArI re||


koड़I koड़I mAyA joड़I,
paDyo hajArI re,
dharma binA thU rito jAsI,
kola vichArI re|
bhajana kI nAya vichArI re,
thArI mhArI kara kara,
umara kho dI sArI re||


jaba thane kahatA bAta dharma kI,
lAge khArI re,
koड़I koड़I khAtira leve,
rAड़ udhArI re|
bhajana kI nAya vichArI re,
thArI mhArI kara kara,
umara kho dI sArI re||


ruka gayA kaMTha dasU daravAjA,
maNDa gI gyArI re,
kahata kabIra suNo bhAI santoM,
karaNI thArI re|
bhajana kI nAya vichArI re,
thArI mhArI kara kara,
umara kho dI sArI re||


bhajana kI nahI vichArI re,
bhajana kI nAya vichArI re,
thArI mhArI kara kara,
umara kho dI sArI re||

svara shrI omadAsa jI mahArAja|
preShaka rAmeshvara lAla pa.NvAra AkAshavANI siMgara|
9785126052

भजन की नहीं विचारी रे थारी म्हारी कर कर उमर खो दी सारी रे Video

भजन की नहीं विचारी रे थारी म्हारी कर कर उमर खो दी सारी रे Video

Browse all bhajans by swami omdas ji maharaj

Browse Temples in India