फागण की रुत ये लाई बहार भजन Lyrics, Video, Bhajan, Bhakti Songs
फागण की रुत ये लाई बहार भजन Lyrics, Video, Bhajan, Bhakti Songs

फागण की रुत ये लाई बहार भजन लिरिक्स

Fagan Ki Rut Ye Layi Bahar

फागण की रुत ये लाई बहार भजन लिरिक्स (हिन्दी)

तर्ज आने से उसके।

फागण की रुत ये लाई बहार,
मन में उमंगें छाई अपार,
प्यारा ये नज़ारा है मेरे सांवरे,
झूमे जग सारा है मेरे सांवरे।।

आ गए हम बाबा,
तेरी चौखट पे तुझको मनाने,
मांगने ना आये,
आये थोड़ा सा रंग लगाने,
रंगो से लाल करें,
चेहरा ये तुम्हारा है मेरे सांवरे,
झूमे जग सारा है मेरे सांवरे।।

सुन सुनाई देती,
ढोल ढपली की तान सुहानी,
तू भी आजा बाबा,
मत कर श्याम तू मनमानी,
आज तेरे भक्तों ने,
तुझको पुकारा है मेरे सांवरे,
झूमे जग सारा है मेरे सांवरे।।

सोच ले कन्हैया,
ये मौका दोबारा ना आये,
प्रेमियों को अपने,
बोल कान्हा क्यों इतना सताये,
देख ज़रा शिवम ये,
लाल तुम्हारा है मेरे सांवरे,
झूमे जग सारा है मेरे सांवरे।।

फागण की रुत ये लाई बहार,
मन में उमंगें छाई अपार,
प्यारा ये नज़ारा है मेरे सांवरे,
झूमे जग सारा है मेरे सांवरे।।

Singer Sakshi Agarwal

फागण की रुत ये लाई बहार भजन Video

फागण की रुत ये लाई बहार भजन Video

Browse all bhajans by Sakshi Agarwal

Browse Temples in India