जगदम्बा हमरे घर में पधार रही रे Lyrics, Video, Bhajan, Bhakti Songs
जगदम्बा हमरे घर में पधार रही रे Lyrics, Video, Bhajan, Bhakti Songs

जगदम्बा हमरे घर में पधार रही रे लिरिक्स

Jagdamba Hamare Ghar Me Padhar Rahi Re

जगदम्बा हमरे घर में पधार रही रे लिरिक्स (हिन्दी)

जगदम्बा हमरे घर में,
पधार रही रे।।

मोतियन चौक में द्वारे पुराऊं,
मल मल आसन सजाय दयों रे,
जगदम्बा हमरे घर मे,
पधार रही रे।।

गंगा जल से चरण पखारुं,
चरणन फूल चढ़ाए दइयों रे,
जगदम्बा हमरे घर मे,
पधार रही रे।।

कंचन थार कपूर की बाती,
मैया की आरती उतार दइयों रे,
जगदम्बा हमरे घर मे,
पधार रही रे।।

हलवा पूरी खीर बताशा,
मैया को भोग लगाएं दइयों रे,
जगदम्बा हमरे घर मे,
पधार रही रे।।

पान सुपाड़ी ध्वजा नारियल,
राजेंद्र भेंट चढ़ाए दइयों रे,
जगदम्बा हमरे घर मे,
पधार रही रे।।

जगदम्बा हमरे घर में,
पधार रही रे।।

गायक / प्रेषक राजेंद्र प्रसाद सोनी।

जगदम्बा हमरे घर में पधार रही रे Video

जगदम्बा हमरे घर में पधार रही रे Video

Browse all bhajans by rajendra prasad soni

Browse Temples in India