मत बांधो रे गठरिया अपजस की लिरिक्स

mat baandho re gathariya apjas ki

मत बांधो रे गठरिया अपजस की लिरिक्स (हिन्दी)

मत बांधो रे गठरिया अपजस की,
अपजस की रे भाई अपजस की
मत बांधो रे गठरिया अपजस की

ये संसार बादल की छाया,
करो रे कमाई भाई हरी रस की
मत बांधो रे गठरिया अपजस की

जोर जवानी ढलक जायेगी ,
बाल अवस्था तेरी दिल दसकी
मत बांधो रे गठरिया अपजस की

धर्म दूत जब फांसी डारे,
खबर लेवे रे थारी नस नस की
मत बांधो रे गठरिया अपजस की

केहत कबीर सुनो रे साधो,
बात नही तेरे कोई बस की
मत बांधो रे गठरिया अपजस की

Download PDF (मत बांधो रे गठरिया अपजस की)

मत बांधो रे गठरिया अपजस की

Download PDF: मत बांधो रे गठरिया अपजस की

मत बांधो रे गठरिया अपजस की Lyrics Transliteration (English)

mata bAMdho re gaThariyA apajasa kI,
apajasa kI re bhAI apajasa kI
mata bAMdho re gaThariyA apajasa kI

ye saMsAra bAdala kI ChAyA,
karo re kamAI bhAI harI rasa kI
mata bAMdho re gaThariyA apajasa kI

jora javAnI Dhalaka jAyegI ,
bAla avasthA terI dila dasakI
mata bAMdho re gaThariyA apajasa kI

dharma dUta jaba phAMsI DAre,
khabara leve re thArI nasa nasa kI
mata bAMdho re gaThariyA apajasa kI

kehata kabIra suno re sAdho,
bAta nahI tere koI basa kI
mata bAMdho re gaThariyA apajasa kI

मत बांधो रे गठरिया अपजस की Video

मत बांधो रे गठरिया अपजस की Video