शिव तो ठहरे सन्यासी गौरा पछताओगी भजन Lyrics, Video, Bhajan, Bhakti Songs
शिव तो ठहरे सन्यासी गौरा पछताओगी भजन Lyrics, Video, Bhajan, Bhakti Songs

शिव तो ठहरे सन्यासी गौरा पछताओगी भजन लिरिक्स

Shiv To Thehre Sanyasi Bhajan

शिव तो ठहरे सन्यासी गौरा पछताओगी भजन लिरिक्स (हिन्दी)

तुम तो ठहरे परदेसी।

शिव तो ठहरे सन्यासी,
गौरा पछताओगी,
भोला योगी संग कैसे,
अरे जिंदगी बिताओगी,
शिव तो ठहरें सन्यासी,
गौरा पछताओगी।।

ऊँचे ऊँचे पर्वत पर,
शिव जी का डेरा है,
नंदी की सवारी गौरा,
कैसे कर पाओगी,
शिव तो ठहरें सन्यासी,
गौरा पछताओगी।।

आगे ना कोई पीछे,
गौरा तेरे दूल्हे के,
दिलवाला हाल गौरा,
अरे किसको सुनाओगी,
शिव तो ठहरें सन्यासी,
गौरा पछताओगी।।

महलों में पली गौरा,
राज दुलारी बनकर,
शिव जी को भंग घोटकर,
कैसे पिलाओगी,
शिव तो ठहरें सन्यासी,
गौरा पछताओगी।।

गौरा बोली सखियों से,
अरी तुम क्या जानो री,
जैसा वर पाया मैंने,
वैसा तुम क्या पाओगी,
शिव तो ठहरें सन्यासी,
गौरा पछताओगी।।

शिव तो ठहरे सन्यासी,
गौरा पछताओगी,
भोला योगी संग कैसे,
अरे जिंदगी बिताओगी,
शिव तो ठहरें सन्यासी,
गौरा पछताओगी।।

Singer Mukesh Kumar Meena

शिव तो ठहरे सन्यासी गौरा पछताओगी भजन Video

शिव तो ठहरे सन्यासी गौरा पछताओगी भजन Video

Browse all bhajans by Mukesh Kumar Meena

Browse Temples in India