Vishvakarma Arti

Vishvakarma Arti in English Prabhu Shri Vishvakarma .Ghar Aavo Prabhu Vishvakarma. Sudama Ki Vinay Suni, Aur Kanchan Mahal Banaaye. Sakal padaarath Dekar Prabhu Ji Dukhiyo Ke Dukh Taare. ॥ Prabhu Shri Vishvakarma Ghar Aavo.. ॥ Vinay Kari Bhagavan krishna Ne Dwaarikapuri Banaao. Gvaal balo Ki Raksha Ke Prabhu Ki Laaj Bachaayo. ॥ Prabhu Shri Vishvakarma … Read more Vishvakarma Arti

Shree Kuber Aarati

Shree Kuber Aarati in Hindi ऊँ जै यक्ष कुबेर हरे , स्वामी जै यक्ष जै यक्ष कुबेर हरे। शरण पड़े भगतों के, भण्डार कुबेर भरे। ॥ऊँ जै यक्ष कुबेर हरे…॥ शिव भक्तों में भक्त कुबेर बड़े, स्वामी भक्त कुबेर बड़े। दैत्य दानव मानव से, कई-कई युद्ध लड़े ॥ ॥ ऊँ जै यक्ष कुबेर हरे…॥ स्वर्ण … Read more Shree Kuber Aarati

Brahma Arti

Brahma Arti in Hindi पितु मातु सहायक स्वामी सखा , तुम ही एक नाथ हमारे हो। जिनके कुछ और आधार नहीं , तिनके तुम ही रखवारे हो । सब भॉति सदा सुखदायक हो , दुख निर्गुण नाशन हरे हो । प्रतिपाल करे सारे जग को, अतिशय करुणा उर धारे हो । भूल गये हैं हम … Read more Brahma Arti

Krishna Arti

Krishna Arti in Hindi ओम जय श्री कृष्ण हरे, प्रभु जय श्री कृष्ण हरे, भक्तन के दुख सारे पल में दूर करे !! ओम जय श्री कृष्ण हरे !! परमानंद मुरारी मोहन गिरधारी, जय रास बिहारी जय जय गिरधारी !! ओम जय श्री कृष्ण हरे !! कर कंकण कटि सोहत कानन मे बाला, मोर मुकुट … Read more Krishna Arti

Shree Vishnu Aarati

Shree Vishnu Aarati in Hindi ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी जय जगदीश हरे भक्त जनों के संकट, दास जनों के संकट, क्षण में दूर करे || || ॐ जय जगदीश हरे || जो ध्यावे फल पावे, दुख विनसे मन का स्वामी दुख विनसे मन का सुख सम्पति घर आवे, कष्ट मिटे तन का || || … Read more Shree Vishnu Aarati

Shree Hanuman Aarati

Shree Hanuman Aarati in Hindi आरती कीजै हनुमान लला की। दुष्ट दलन रघुनाथ कला की॥ जाके बल से गिरिवर कांपे। रोग दोष जाके निकट न झांके॥ अंजनि पुत्र महा बलदाई। सन्तन के प्रभु सदा सहाई॥ ॥ आरती कीजै हनुमान.. ॥ दे बीड़ा रघुनाथ पठाए। लंका जारि सिया सुधि लाए॥ लंका सो कोट समुद्र-सी खाई। जात … Read more Shree Hanuman Aarati

Shree Ram Aarati

Shree Ram Aarati in Hindi श्री रामचन्द्र कृपालु भजु मन, हरण भवभय दारुणम्। नव कंज लोचन, कंज मुख कर कंज पद कंजारुणम्॥ ॥श्री रामचन्द्र कृपालु..॥ कन्दर्प अगणित अमित छवि, नव नील नीरद सुन्दरम्। पट पीत मानहुं तड़ित रूचि-शुचि नौमि जनक सुतावरम्॥ ॥श्री रामचन्द्र कृपालु..॥ भजु दीनबंधु दिनेश दानव दैत्य वंश निकन्दनम्। रघुनन्द आनन्द कन्द कौशल … Read more Shree Ram Aarati

Aarati Shree Madbhaagawat Mahapuran Ki 

आरती श्रीमद्भागवतमहापुराण की आरती अतिपावन पुरान की । धर्म-भक्ति-विज्ञान-खान की ॥महापुराण भागवत निर्मल । शुक-मुख-विगलित निगम-कल्प-फल ॥परमानन्द सुधा-रसमय कल । लीला-रति-रस रसनिधान की ॥॥ आरती अतिपावन पुरान की… ॥कलिमथ-मथनि त्रिताप-निवारिणि । जन्म-मृत्यु भव-भयहारिणी ॥सेवत सतत सकल सुखकारिणि । सुमहौषधि हरि-चरित गान की ॥॥ आरती अतिपावन पुरान की… ॥विषय-विलास-विमोह विनाशिनि । विमल-विराग-विवेक विकासिनि ॥भगवत्-तत्त्व-रहस्य-प्रकाशिनि । परम … Read more Aarati Shree Madbhaagawat Mahapuran Ki 

Shree Shiv Aarati

Shree Shiv Aarati in Hindi ॐ जय शिव ओंकारा ,प्रभु हर ॐ शिव ओंकारा |ब्रह्मा विष्णु सदाशिव,अर्द्धांगी धारा ॥|| ॐ जय शिव ओंकारा……||एकानन चतुराननपंचांनन राजै |हंसासंन , गरुड़ासन ,वृषवाहन साजै॥|| ॐ जय शिव ओंकारा……||दो भुज चार चतुर्भजदस भुज अति सोहें |तीनों रुप निरखतात्रिभुवन जन मोहें॥|| ॐ जय शिव ओंकारा……||अक्षमाला , वनमाला ,मुण्डमालाधारी |चंदन , मृगमद … Read more Shree Shiv Aarati

Shree Ganesh Aarati

Shree Ganesh Aarati in Hindi जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश देवा । माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥ एक दंत दयावंत, चार भुजाधारी । माथे पर तिलक सोहे, मूसे की सवारी ॥ ॥जय गणेश, जय गणेश, .. ॥ पान चढ़ें, फूल चढ़ें और चढ़ें मेवा । लडुअन को भोग लगे, संत करे सेवा ॥ … Read more Shree Ganesh Aarati