बल्ले बल्ले मैं मैया द फ़क़ीर हो गया, ओहदे रंगां विच रंगी तस्वीर हो गया

बल्ले बल्ले मैं मैया द फ़क़ीर हो गया, ओहदे रंगां विच रंगी तस्वीर हो गया

बल्ले बल्ले मैं मैया द फ़क़ीर हो गया,
ओहदे रंगां विच रंगी तस्वीर हो गया,

१. नाम वाले रंग विच मैनू दिता रंग माँ,
इस तों इलावा मेरी होर कोई मंग ना,
मिली नाम वाली दौलत अमीर हो गया,
बल्ले बल्ले मैं मैया द…….,

२. लोकी मैनू आखदे ने हो गया शुदाई ऐ,
अपनी ना होश, होश जग दी भुलाई ऐ,
उस शाहाँ दी वी शाह दी मैं जागीर हो गया,
बल्ले बल्ले मैं मैया द………,

३. अपनी खुमारी अंग-अंग विच भरती,
राजू ते वी दाती ने नज़र ऐसी करती,
पाक रूह होई पावन शरीर हो गया,
बल्ले बल्ले मैं मैया द……….,