दर दर हुए भटकों को दर पे तुम बुलाते हो Lyrics, Video, Bhajan, Bhakti Songs
दर दर हुए भटकों को दर पे तुम बुलाते हो Lyrics, Video, Bhajan, Bhakti Songs

दर दर हुए भटकों को दर पे तुम बुलाते हो लिरिक्स

Dar Dar Huye Bhatko Ko Dar Pe Tum Bulate Ho

दर दर हुए भटकों को दर पे तुम बुलाते हो लिरिक्स (हिन्दी)

दर दर हुए भटकों को,
दर पे तुम बुलाते हो,
थक हार के आता है जो,
सीने से लगाते हो,
दर दर हुए भटकों को।।

तर्ज एक प्यार का नगमा।


बस मन में कभी सोचा,
तुमने है पूरा किया,
जब दिल से माँगा तो,
पल भर में दे ही दिया,
अब क्या क्या बताऊँ प्रभु,
तुम कितना निभाते हो,
थक हार के आता है जो,
सीने से लगाते हो,
दर दर हुए भटकों को।।


जीवन की सुबह तुमसे,
और रात तुम्ही से है,
ऐसी कृपा गिरधर,
हर बात तुम्ही से है,
अपनो ने मुँह फेरा,
तुम नज़रें मिलाते हो,
थक हार के आता है जो,
सीने से लगाते हो,
दर दर हुए भटकों को।।


हर एक मुसीबत में,
तुमको ही पुकारा है,
जब जब मैं गिरने लगा,
तुमने ही संभाला है,
आकाश के बादल से,
पानी बरसाते हो,
थक हार के आता है जो,
सीने से लगाते हो,
दर दर हुए भटकों को।।


दर दर हुए भटकों को,
दर पे तुम बुलाते हो,
थक हार के आता है जो,
सीने से लगाते हो,
दर दर हुए भटकों को।।

गायक आकाश शर्मा।

Download PDF (दर दर हुए भटकों को दर पे तुम बुलाते हो )

Download the PDF of song ‘Dar Dar Huye Bhatko Ko Dar Pe Tum Bulate Ho ‘.

Download PDF: दर दर हुए भटकों को दर पे तुम बुलाते हो

Dar Dar Huye Bhatko Ko Dar Pe Tum Bulate Ho Lyrics (English Transliteration)

dara dara hue bhaTakoM ko,
dara pe tuma bulAte ho,
thaka hAra ke AtA hai jo,
sIne se lagAte ho,
dara dara hue bhaTakoM ko||

tarja eka pyAra kA nagamA|


basa mana meM kabhI sochA,
tumane hai pUrA kiyA,
jaba dila se mA.NgA to,
pala bhara meM de hI diyA,
aba kyA kyA batAU.N prabhu,
tuma kitanA nibhAte ho,
thaka hAra ke AtA hai jo,
sIne se lagAte ho,
dara dara hue bhaTakoM ko||


jIvana kI subaha tumase,
aura rAta tumhI se hai,
aisI kRRipA giradhara,
hara bAta tumhI se hai,
apano ne mu.Nha pherA,
tuma naja़reM milAte ho,
thaka hAra ke AtA hai jo,
sIne se lagAte ho,
dara dara hue bhaTakoM ko||


hara eka musIbata meM,
tumako hI pukArA hai,
jaba jaba maiM girane lagA,
tumane hI saMbhAlA hai,
AkAsha ke bAdala se,
pAnI barasAte ho,
thaka hAra ke AtA hai jo,
sIne se lagAte ho,
dara dara hue bhaTakoM ko||


dara dara hue bhaTakoM ko,
dara pe tuma bulAte ho,
thaka hAra ke AtA hai jo,
sIne se lagAte ho,
dara dara hue bhaTakoM ko||

gAyaka AkAsha sharmA|

दर दर हुए भटकों को दर पे तुम बुलाते हो Video

दर दर हुए भटकों को दर पे तुम बुलाते हो Video

Browse all bhajans by Aakash Sharma

Browse Temples in India