गंगा यमुना सरस्वती के बहते अमृतधारे | Lyrics, Video | Miscellaneous Bhajans
गंगा यमुना सरस्वती के बहते अमृतधारे | Lyrics, Video | Miscellaneous Bhajans

गंगा यमुना सरस्वती के बहते अमृतधारे लिरिक्स

ganga yamuna sarsawati ke behte amritdhaare

गंगा यमुना सरस्वती के बहते अमृतधारे लिरिक्स (हिन्दी)

गंगा यमुना सरस्वती के बहते अमृतधारे यहाँ आशनां किये या,
संगम सब देवो संग होगा संगम घाट किनारे तू धयान किये या,

लगा तीर्थ  प्राग राज में माह कुंभ का मेला,
स्वर्ग उतर आया धरती पर देखे पवन वेला,
कही भजन कही भंडारे कही संतो का है रेला,
बन जायेगा पाप कटेगा कष्टों का मेला पूण दान किये जा,
गंगा यमुना सरस्वती के बहते अमृतधारे यहाँ आशनां किये या,

इतर गुला है पुरवाई में माटी में चन्दन है,
कोटि कोटि इस देव भूमि का मन से अभिननन्द है,
निश्चल होती यहाँ आत्मा खुलता हर बंधन है,
गंगा की लेहरो में सुनाई देता शिव वंधन है गुण गान किये जा,
गंगा यमुना सरस्वती के बहते अमृतधारे यहाँ आशनां किये या,

मन के मनके फेर मेनका मोक्ष अगर पाना है,
लगा तिरवेनी में डुबकी भाव पार अगर जाना है,
हर गंगे हर हर गंगे हर सांस में दोहराना है,
मंत्न नहीं महा मंत्र है ये इस मंत्र में रम जाना है ये ज्ञान लिए जा,
गंगा यमुना सरस्वती के बहते अमृतधारे यहाँ आशनां किये या,

Download PDF (गंगा यमुना सरस्वती के बहते अमृतधारे)

गंगा यमुना सरस्वती के बहते अमृतधारे

Download PDF: गंगा यमुना सरस्वती के बहते अमृतधारे

गंगा यमुना सरस्वती के बहते अमृतधारे Lyrics Transliteration (English)

gaMgA yamunA sarasvatI ke bahate amRRitadhAre yahA.N AshanAM kiye yA,
saMgama saba devo saMga hogA saMgama ghATa kinAre tU dhayAna kiye yA,

lagA tIrtha  prAga rAja meM mAha kuMbha kA melA,
svarga utara AyA dharatI para dekhe pavana velA,
kahI bhajana kahI bhaMDAre kahI saMto kA hai relA,
bana jAyegA pApa kaTegA kaShToM kA melA pUNa dAna kiye jA,
gaMgA yamunA sarasvatI ke bahate amRRitadhAre yahA.N AshanAM kiye yA,

itara gulA hai puravAI meM mATI meM chandana hai,
koTi koTi isa deva bhUmi kA mana se abhinananda hai,
nishchala hotI yahA.N AtmA khulatA hara baMdhana hai,
gaMgA kI leharo meM sunAI detA shiva vaMdhana hai guNa gAna kiye jA,
gaMgA yamunA sarasvatI ke bahate amRRitadhAre yahA.N AshanAM kiye yA,

mana ke manake phera menakA mokSha agara pAnA hai,
lagA tiravenI meM DubakI bhAva pAra agara jAnA hai,
hara gaMge hara hara gaMge hara sAMsa meM doharAnA hai,
maMtna nahIM mahA maMtra hai ye isa maMtra meM rama jAnA hai ye j~nAna lie jA,
gaMgA yamunA sarasvatI ke bahate amRRitadhAre yahA.N AshanAM kiye yA,

See also  मृग तृष्णा है दुनिया दारी कब तक भागे गा प्राणी | Lyrics, Video | Miscellaneous Bhajans

गंगा यमुना सरस्वती के बहते अमृतधारे Video

गंगा यमुना सरस्वती के बहते अमृतधारे Video

Browse all bhajans by Menka Mishra

Browse Temples in India