लिखा किस्मत में मिटता नहीं मिटाने से भजन Lyrics, Video, Bhajan, Bhakti Songs
लिखा किस्मत में मिटता नहीं मिटाने से भजन Lyrics, Video, Bhajan, Bhakti Songs

लिखा किस्मत में मिटता नहीं मिटाने से भजन लिरिक्स

Likha Kismat Mein Mitta Nahi Mitane Se

लिखा किस्मत में मिटता नहीं मिटाने से भजन लिरिक्स (हिन्दी)

तर्ज हुस्न हाजिर है।

लिखा किस्मत में,
मिटता नहीं मिटाने से,
समय को काट लो भैया,
किसी बहाने से।।

हरिश्चंद्र राजा था,
संग रानी तारा,
रोहित को नाग ने काटा,
कफन भी मिल नहीं पाया,
समय की धारा,
मिटती नहीं मिटाने से,
समय को काट लो भैया,
किसी बहाने से।।

रावण अभिमानी था,
सिया को चुरा लाया,
सबसे कहता था यही,
कौन मुझे मारने वाला,
रोक नहीं पाया कोई,
रावण को मरने से,
समय को काट लो भैया,
किसी बहाने से।।

प्रहलाद भक्त था,
हरि नाम जपता था,
हरि नाम जपता था,
किसी से ना डरता था,
रोक नहीं पाया कोई,
हरि नाम रटने से,
समय को काट लो भैया,
किसी बहाने से।।

लिखा किस्मत में,
मिटता नहीं मिटाने से,
समय को काट लो भैया,
किसी बहाने से।।

गायक लखन रघुवंशी।

लिखा किस्मत में मिटता नहीं मिटाने से भजन Video

लिखा किस्मत में मिटता नहीं मिटाने से भजन Video

Browse all bhajans by lakhan raghuwanshi

Browse Temples in India