मेरे श्याम पिया कैसा जादू किया भजन लिरिक्स

मेरे श्याम पिया कैसा जादू किया भजन लिरिक्स

मेरे श्याम पिया कैसा जादू किया,
जादू ऐसा छाया मज़ा आ गया,
दिल मेरा खो गया मैं फ़ना हो गया,
मस्ती ऐसी छाई मज़ा आ गया,
मेरें श्याम पिया कैसा जादू किया,
जादू ऐसा छाया मज़ा आ गया।।



गुनगुनाता हुआ दर तेरे आ गया,
तेरा रूप सलोना मेरे मान भा गया,
तेरी मेहर फिरि मेरी बिगड़ी बनी,
बात ऐसी बनाई मज़ा आ गया,
मेरें श्याम पिया कैसा जादू किया,
जादू ऐसा छाया मज़ा आ गया।।



दुख ही दुख थे बाबा मेरी राहो में,
सैकड़ो काटे थे मेरी पाँव में,
कृपा ऐसी करी मेरी विपत्ति हरी,
खुशिया जीवन में आई मज़ा आ गया,
मेरें श्याम पिया कैसा जादू किया,
जादू ऐसा छाया मज़ा आ गया।।



मेरे श्याम पिया कैसा जादू किया,
जादू ऐसा छाया मज़ा आ गया,
दिल मेरा खो गया मैं फ़ना हो गया,
मस्ती ऐसी छाई मज़ा आ गया,
मेरें श्याम पिया कैसा जादू किया,
जादू ऐसा छाया मज़ा आ गया।।