Mujhe Tune Malik Bhut Kuch Diya Hai Shri Prem Bhushan Ji

Mujhe Tune Malik Bhut Kuch Diya Hai Shri Prem Bhushan Ji

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

ना मिलती अगर दी हुई दात तेरी
तो क्या थी ज़माने में औकात मेरी

ये बंदा तो तेरे सहारे जिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

ये जायदाद दी है, ये औलाद दी है
मुसीबत में हर वक़्त की मदद की है

तेरे ही दिया मैंने खाया पिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मेरा ही नहीं तू सभी का है दाता
सभी को सभी कुछ है देता दिलाता

जो खाली था दामन तूने भर दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

तेरी बंदगी से मै बंदा हूँ मालिक
तेरे ही करम से मै जिन्दा हूँ मालिक

तुम्ही ने तो जीने के काबिल किया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मेरा भूल जाना तेरा ना भुलाना
तेरी रहमतो का कहाँ है ठिकाना

तेरी इस मोहब्बत ने पागल किया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

मुझे तूने मालिक बहुत कुछ दिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है
तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है

सीताराम राम राम, सीताराम राम राम
सीताराम राम राम, सीताराम राम राम

सीताराम राम राम, सीताराम राम राम
सीताराम राम राम, सीताराम राम राम