मुझको तो वृन्दावन जाना भजन लिरिक्स

Mujhko To Vrindavan Jana In Hindi

मुझको तो वृन्दावन जाना भजन लिरिक्स (हिन्दी)

मुझको तो वृन्दावन जाना,

दोहा टूट गए दुनिया के नाते,
इक श्याम तुम्ही से नाता है,
तू है मेरा मैं हूँ तेरा,
अब और ना कोई भाता है।
जब कशिश उठे,
तेरे मिलने की,
ना धीरज मन को होता है,
तेरी याद के बिन कुछ याद नहीं,
ना जगता है ना सोता है।
गली गली में संत जहाँ,
राधा नाम का जहाँ धन है,
राज चले जहाँ श्यामा जू का,
ऐसा हमारा वृन्दावन है।


ना चाहूँ हीरे मोती,
ना चाहूँ सोना चांदी,
मैं तो अपने गिरधर की,
हो गयी रे प्रेम दीवानी,
छोड़ी रजधानी तेरी राणा,
मुझको तो वृन्दावन जाना,
मुझको तो वृन्दावन जाना।।


एक ना मानूंगी मैं,
वृन्दावन जाउंगी मैं,
अपने गिरधर के आगे,
नाचूंगी गाऊँगी मैं,
विरहा की हूँ मैं मारी,
छोड़ के महल अटारी,
मन मोहन की मैं प्यारी,
दुनिया से होके न्यारी,
लेके चली प्रेम का नज़राना,
मुझको तो वृँदावन जाना,
मुझको तो वृन्दावन जाना।।


पल पल तड़पु मैं ऐसे,
मछली बिन जल के जैसे,
अपने गिरधर के बिन मैं,
जीवन जियूँगी कैसे,
पिया बिन रह ना पाऊँ,
किसको ये दर्द सुनाऊँ,
दर्शन बिन गिरधर के मैं,
कैसे मैं जनम बिताऊं,
उनको ही सर्वस्व मैंने माना,
मुझको तो वृँदावन जाना,
मुझको तो वृन्दावन जाना।।


गिरधर मेरे मन भाया,
मैं गिरधर के मन भायी,
मीरा की नटनागर संग,
हो गयी है प्रेम सगाई,
गिरधर के प्रेम में घायल,
पैरो में बांध के पायल,
नाचूंगी बनके पागल,
चरणों में बीते हर पल,
लौट के वापस नहीं आना,
मुझको तो वृँदावन जाना,
मुझको तो वृन्दावन जाना।।


तोड़ के सारे बंधन,
मीरा चली वृंदावन,
अपने गिरधर नागर पे,
न्योछावर कर दिया जीवन,
मीरा की प्रेम कहानी,
सारी दुनिया ने जानी,
भक्तो के आगे प्रभु की,
चलती है ना मनमानी,
चित्र विचित्र ने भी ठाना,
मुझको तो वृँदावन जाना,
मुझको तो वृन्दावन जाना।।


ना चाहूँ हीरे मोती,
ना चाहूँ सोना चांदी,
मैं तो अपने गिरधर की,
हो गयी रे प्रेम दीवानी,
छोड़ी रजधानी तेरी राणा,
मुझको तो वृन्दावन जाना,
मुझको तो वृन्दावन जाना।।

स्वर श्री चित्र विचित्र जी महाराज।

Download PDF (मुझको तो वृन्दावन जाना भजन )

Download the PDF of song ‘Mujhko To Vrindavan Jana In Hindi’.

Download PDF: मुझको तो वृन्दावन जाना भजन

Mujhko To Vrindavan Jana In Hindi Lyrics (English Transliteration)

mujhako to vRRindAvana jAnA,

dohA TUTa gae duniyA ke nAte,
ika shyAma tumhI se nAtA hai,
tU hai merA maiM hU.N terA,
aba aura nA koI bhAtA hai|
jaba kashisha uThe,
tere milane kI,
nA dhIraja mana ko hotA hai,
terI yAda ke bina kuCha yAda nahIM,
nA jagatA hai nA sotA hai|
galI galI meM saMta jahA.N,
rAdhA nAma kA jahA.N dhana hai,
rAja chale jahA.N shyAmA jU kA,
aisA hamArA vRRindAvana hai|


nA chAhU.N hIre motI,
nA chAhU.N sonA chAMdI,
maiM to apane giradhara kI,
ho gayI re prema dIvAnI,
Choड़I rajadhAnI terI rANA,
mujhako to vRRindAvana jAnA,
mujhako to vRRindAvana jAnA||


eka nA mAnUMgI maiM,
vRRindAvana jAuMgI maiM,
apane giradhara ke Age,
nAchUMgI gAU.NgI maiM,
virahA kI hU.N maiM mArI,
Choड़ ke mahala aTArI,
mana mohana kI maiM pyArI,
duniyA se hoke nyArI,
leke chalI prema kA naज़rAnA,
mujhako to vRRi.NdAvana jAnA,
mujhako to vRRindAvana jAnA||


pala pala taड़pu maiM aise,
maChalI bina jala ke jaise,
apane giradhara ke bina maiM,
jIvana jiyU.NgI kaise,
piyA bina raha nA pAU.N,
kisako ye darda sunAU.N,
darshana bina giradhara ke maiM,
kaise maiM janama bitAUM,
unako hI sarvasva maiMne mAnA,
mujhako to vRRi.NdAvana jAnA,
mujhako to vRRindAvana jAnA||


giradhara mere mana bhAyA,
maiM giradhara ke mana bhAyI,
mIrA kI naTanAgara saMga,
ho gayI hai prema sagAI,
giradhara ke prema meM ghAyala,
pairo meM bAMdha ke pAyala,
nAchUMgI banake pAgala,
charaNoM meM bIte hara pala,
lauTa ke vApasa nahIM AnA,
mujhako to vRRi.NdAvana jAnA,
mujhako to vRRindAvana jAnA||


toड़ ke sAre baMdhana,
mIrA chalI vRRiMdAvana,
apane giradhara nAgara pe,
nyoChAvara kara diyA jIvana,
mIrA kI prema kahAnI,
sArI duniyA ne jAnI,
bhakto ke Age prabhu kI,
chalatI hai nA manamAnI,
chitra vichitra ne bhI ThAnA,
mujhako to vRRi.NdAvana jAnA,
mujhako to vRRindAvana jAnA||


nA chAhU.N hIre motI,
nA chAhU.N sonA chAMdI,
maiM to apane giradhara kI,
ho gayI re prema dIvAnI,
Choड़I rajadhAnI terI rANA,
mujhako to vRRindAvana jAnA,
mujhako to vRRindAvana jAnA||

svara shrI chitra vichitra jI mahArAja|

मुझको तो वृन्दावन जाना भजन Video

मुझको तो वृन्दावन जाना भजन Video

Browse Temples in India