शांति कीजिये  शांति कीजिये   जल में थाल में और गगन में, Lyrics

shanti kijiye

शांति कीजिये  शांति कीजिये   जल में थाल में और गगन में, Lyrics in Hindi

शांति कीजिये  शांति कीजिये  
जल में थाल में और गगन में,
अंतरिक्ष में अगनी पवन में
शांति कीजिये शांति कीजिये ,

शांति कीजिये  शांति कीजिये
औशदी वनस्पति बन उपबन में,
सकल विशव के जढ़ चेतन में
शांति कीजिये  शांति कीजिये

शांति कीजिये शांति कीजिये
नागर ग्राम में और भवन में
जीव मात्र के तन मन में,
शांति कीजिये शांति कीजिये ,

शांति कीजिये शांति कीजिये
और जगत के हर कण कण में
प्रभु त्रिभुवन में
शांति कीजिये शांति कीजिये

शांति कीजिये  शांति कीजिये   जल में थाल में और गगन में, Lyrics Transliteration (English)

shaanti keejiye shaanti keejiye
jal mein thaal mein aur gagan mein,
antariksh mein aganee pavan mein
shaanti keejiye shaanti keejiye ,

shaanti keejiye shaanti keejiye
aushadee vanaspati ban upaban mein,
sakal vishav ke jadh chetan mein
shaanti keejiye shaanti keejiye

shaanti keejiye shaanti keejiye
naagar graam mein aur bhavan mein
jeev maatr ke tan man mein,
shaanti keejiye shaanti keejiye ,

shaanti keejiye shaanti keejiye
aur jagat ke har kan kan mein
prabhu tribhuvan mein
shaanti keejiye shaanti keejiye

शांति कीजिये  शांति कीजिये   जल में थाल में और गगन में, Video

शांति कीजिये  शांति कीजिये   जल में थाल में और गगन में, Video

Browse Temples in India