श्याम तेरा शुक्राना खाटू श्याम भजन लिरिक्स

श्याम तेरा शुक्राना,

दोहा – तेरा तुझको सौंप दूँ,
क्या लागत है मोर,
मेरा मुझमे कछु नाही,
जो कुछ है सब तोर।

जब विपदा की बदरी थी छाई,
तूने मोरछड़ी अपनी लहराई,
हर मुसीबत से मुझको बचाया,
के श्याम तेरा शुकराना,
तूने रोते हुए को हंसाया,
के श्याम तेरा शुकराना।।


जबसे तूने सांवरिया पकड़ा ये हाथ है,
काँटों वाली राहों में फूलों की बरसात है,
तूने इतना किया है एहसान,
तेरे प्रेमियों में मिली पहचान,
मेरे सूखे चमन को खिलाया,
के श्याम तेरा शुकराना,
हर मुसीबत से मुझको बचाया,
के श्याम तेरा शुकराना,
तूने रोते हुए को हंसाया,
के श्याम तेरा शुकराना।।


मेरे संग तू है दुखों ने मुख मोड़ा,
मेरे हर भरम को तो तूने ही तोडा,
मेरी साँसों की सरगम में श्याम,
मेरे होंठों पे तेरा ही नाम,
तूने मुझको है अपना बनाया,
के श्याम तेरा शुकराना,
हर मुसीबत से मुझको बचाया,
के श्याम तेरा शुकराना,
तूने रोते हुए को हंसाया,
के श्याम तेरा शुकराना।


तूफानों में अब ना डोले मेरी नैया,
पार तू लगाता है बनकर खिवैया,
ये ‘चोखानी’ तेरा ही गुलाम,
बाबा ‘गौतम’ की थामो लगाम,
तूने इतना जो प्यार बरसाया,
के श्याम तेरा शुकराना,
हर मुसीबत से मुझको बचाया,
के श्याम तेरा शुकराना,
तूने रोते हुए को हंसाया,
के श्याम तेरा शुकराना।।


जब विपदा की बदरी थी छाई,
तूने मोरछड़ी अपनी लहराई,
हर मुसीबत से मुझको बचाया,
के श्याम तेरा शुक्राना,
तूने रोते हुए को हंसाया,
के श्याम तेरा शुकराना।।

श्याम तेरा शुक्राना खाटू श्याम Lyrics Transliteration (English)

shyaam tera shukraana,

doha – tera tujhako saump doon,
kya laagat hai mor,
mera mujhame kachhu naahee,
jo kuchh hai sab tor.

jab vipada kee badaree thee chhaee,
toone morachhadee apanee laharaee,
har museebat se mujhako bachaaya,
ke shyaam tera shukaraana,
toone rote hue ko hansaaya,
ke shyaam tera shukaraana..

jabase toone saanvariya pakada ye haath hai,
kaanton vaalee raahon mein phoolon kee barasaat hai,
toone itana kiya hai ehasaan,
tere premiyon mein milee pahachaan,
mere sookhe chaman ko khilaaya,
ke shyaam tera shukaraana,
har museebat se mujhako bachaaya,
ke shyaam tera shukaraana,
toone rote hue ko hansaaya,
ke shyaam tera shukaraana.

mere sang too hai dukhon ne mukh moda,
mere har bharam ko to toone hee toda,
meree saanson kee saragam mein shyaam,
mere honthon pe tera hee naam,
toone mujhako hai apana banaaya,
ke shyaam tera shukaraana,
har museebat se mujhako bachaaya,
ke shyaam tera shukaraana,
toone rote hue ko hansaaya,
ke shyaam tera shukaraana.

toophaanon mein ab na dole meree naiya,
paar too lagaata hai banakar khivaiya,
ye ‘chokhaanee’ tera hee gulaam,
baaba ‘gautam’ kee thaamo lagaam,
toone itana jo pyaar barasaaya,
ke shyaam tera shukaraana,
har museebat se mujhako bachaaya,
ke shyaam tera shukaraana,
toone rote hue ko hansaaya,
ke shyaam tera shukaraana..

jab vipada kee badaree thee chhaee,
toone morachhadee apanee laharaee,
har museebat se mujhako bachaaya,
ke shyaam tera shukraana,
toone rote hue ko hansaaya,
ke shyaam tera shukaraana