ऐसा बना दे मुझे श्याम दीवाना भजन लिरिक्स

ऐसा बना दे मुझे श्याम दीवाना भजन लिरिक्स

ऐसा बना दे मुझे श्याम दीवाना,
बन के दीवाना गाऊं प्रेम तराना,
सांवरिया अपनी सेवा में,
मुझको लगाना,
ऐसा बना दें मुझे श्याम दिवाना,
बन के दीवाना गाऊं प्रेम तराना।।

जबसे कन्हैया तुमसे,
आँखे हुई चार है,
मेरे जीवन में छाई,
अजब बहार है,
भटक रहा था जग में,
अब मैंने जाना,
बन के दीवाना गाऊं प्रेम तराना,
ऐसा बना दें मुझे श्याम दिवाना,
बन के दीवाना गाऊं प्रेम तराना।।



सांवली सलोनी सूरत,
मन को लुभाई,
ऐसी मन भायी,
दिल में प्रीत जगाई,
प्रीत हमारी अब तो,
श्याम निभाना,
बन के दीवाना गाऊं प्रेम तराना,
ऐसा बना दें मुझे श्याम दिवाना,
बन के दीवाना गाऊं प्रेम तराना।



लिख दी है नाम तेरे,
ये जिंदगानी,
मुझे अपना ले तेरी,
होगी मेहरबानी,
चरणों की सेवा में,
मुझको लगाना,
बन के दीवाना गाऊं प्रेम तराना,
ऐसा बना दें मुझे श्याम दिवाना,
बन के दीवाना गाऊं प्रेम तराना।।



जो भी कहोगे सारे,
हुकम बजायेंगे,
श्याम चरण तज,
अब नहीं जाएँगे,
‘नंदू’ लुटा दे मोहे,
प्यार का खजाना,
बन के दीवाना गाऊं प्रेम तराना,
ऐसा बना दें मुझे श्याम दिवाना,
बन के दीवाना गाऊं प्रेम तराना।।



ऐसा बना दे मुझे श्याम दीवाना,
बन के दीवाना गाऊं प्रेम तराना,
सांवरिया अपनी सेवा में,
मुझको लगाना,
ऐसा बना दें मुझे श्याम दिवाना,
बन के दीवाना गाऊं प्रेम तराना।।