दरबार तेरा सांवरे छूटे कभी नहीं भजन Lyrics, Video, Bhajan, Bhakti Songs
दरबार तेरा सांवरे छूटे कभी नहीं भजन Lyrics, Video, Bhajan, Bhakti Songs

दरबार तेरा सांवरे छूटे कभी नहीं भजन लिरिक्स

Darbar Tera Sanware Chute Kabhi Nahi

दरबार तेरा सांवरे छूटे कभी नहीं भजन लिरिक्स (हिन्दी)

तर्ज: मिलती है जिंदगी में।

दरबार तेरा सांवरे,
छूटे कभी नहीं,
आता रहूं ये सिलसिला,
टूटे कभी नहीं,
दरबार तेरा साँवरे।।

साँसे चले ये जब तलक,
आता रहूं यहाँ,
कदमो में तेरे सांवरे,
बसता मेरा जहान,
अरमानो की ये डोरिया,
टूटे कभी नहीं
आता रहूं ये सिलसिला,
टूटे कभी नहीं,
दरबार तेरा साँवरे।।

इस झूठी दुनियादारी की,
अब चाह ना मुझे,
चाहे रूठ जाए जग कोई,
परवाह ना मुझे,
पर मुझसे मेरा सांवरा,
रूठे कभी नहीं,
आता रहूं ये सिलसिला,
टूटे कभी नहीं,
दरबार तेरा साँवरे।।

मेरे सांवरे पसंद मुझे,
तेरी ये बंदगी,
तेरे नाम के सहारे है,
कुंदन ये ज़िन्दगी,
ये अपनी प्रेम गागरी,
फूटे कभी नहीं,
आता रहूं ये सिलसिला,
टूटे कभी नहीं,
दरबार तेरा साँवरे।।

दरबार तेरा सांवरे,
छूटे कभी नहीं,
आता रहूं ये सिलसिला,
टूटे कभी नहीं,
दरबार तेरा साँवरे।।

दरबार तेरा सांवरे छूटे कभी नहीं भजन Video

दरबार तेरा सांवरे छूटे कभी नहीं भजन Video

Browse all bhajans by Sakshi Agarwal

Browse Temples in India