मुझे चढ़ गया श्याम का रंग रंग भजन लिरिक्स

मुझे चढ़ गया श्याम का रंग रंग,
खाटू वाले श्याम का,
मीरा के घनश्याम का,
मैं तो हो गया मस्त मलंग,
मुझें चढ़ गया श्याम का रंग रंग।।



इस रंग पे बजरंगी नाचे,
इस रंग पे नरसी थे नाचे,
इनकी भक्ति देख के,
इनकी भक्ति देख के,
दुनिया रह गई दंग,
मुझें चढ़ गया श्याम का रंग रंग।।



इस रंग पे मीरा थी नाची,
इस रंग पे शबरी थी नाची,
भक्ति करने का दुनिया को,
भक्ति करने का दुनिया को,
दे गए ये तो ढंग,
मुझें चढ़ गया श्याम का रंग रंग।।



दुनिया चार दिनों का मेला,
देख के या खाटू का मेला,
जप ले ‘कन्हैया’ मौज करेगा,
जप ले ‘कन्हैया’ मौज करेगा,
जब सांवरिया संग,
मुझें चढ़ गया श्याम का रंग रंग।।



मुझे चढ़ गया श्याम का रंग रंग,
खाटू वाले श्याम का,
मीरा के घनश्याम का,
मैं तो हो गया मस्त मलंग,
मुझें चढ़ गया श्याम का रंग रंग।।

मुझे चढ़ गया श्याम का रंग रंग Lyrics Transliteration (English)

mujhe chadh gaya shyaam ka rang rang,
khaatoo vaale shyaam ka,
meera ke ghanashyaam ka,
main to ho gaya mast malang,
mujhen chadh gaya shyaam ka rang rang..

is rang pe bajarangee naache,
is rang pe narasee the naache,
inakee bhakti dekh ke,
inakee bhakti dekh ke,
duniya rah gaee dang,
mujhen chadh gaya shyaam ka rang rang..

is rang pe meera thee naachee,
is rang pe shabaree thee naachee,
bhakti karane ka duniya ko,
bhakti karane ka duniya ko,
de gae ye to dhang,
mujhen chadh gaya shyaam ka rang rang.

duniya chaar dinon ka mela,
dekh ke ya khaatoo ka mela,
jap le ‘kanhaiya’ mauj karega,
jap le ‘kanhaiya’ mauj karega,
jab saanvariya sang,
mujhen chadh gaya shyaam ka rang rang.

mujhe chadh gaya shyaam ka rang rang,
khaatoo vaale shyaam ka,
meera ke ghanashyaam ka,
main to ho gaya mast malang,
mujhen chadh gaya shyaam ka rang rang..