ओम महाकाल के काल तुम हो प्रभो | Lyrics, Video | Shiv Bhajans
ओम महाकाल के काल तुम हो प्रभो | Lyrics, Video | Shiv Bhajans

ओम महाकाल के काल तुम हो प्रभो लिरिक्स

om mahakal ke kaal tum ho prabhu

ओम महाकाल के काल तुम हो प्रभो लिरिक्स (हिन्दी)

ओम महाकाल के काल तुम हो प्रभो
गुण के आगार सत्यम शिवम सुंदरम।
कर में डमरू लसे चंदमा भल पर
हो निराकार सत्यम शिवम सुंदरम॥

हैं जटाबीच मंदाकिनी की छटा
मुंडमाला गलेबीच शोभित महां।
कंठ में माल विषधर लपेटे हुए
करके श्रृंगार सत्यम शिवम सुंदरम॥

बैठे कैलाश पर्वत पर आसन लगा
भस्म तन पर हो अपने लगाए हुए।
है निराली तुम्हारी ये अनुपम छटा
सबके आधार सत्यम शिवम सुंदरम॥

न्यारी महिमा तुम्हारी है त्रयलोक मे
भोले भंडारी तुम बोले जाते प्रभो।
अम्बिका और निर्मोही को आस है
कर दो उद्धार सत्यम शिवम सुंदरम॥

Download PDF (ओम महाकाल के काल तुम हो प्रभो)

ओम महाकाल के काल तुम हो प्रभो

Download PDF: ओम महाकाल के काल तुम हो प्रभो

ओम महाकाल के काल तुम हो प्रभो Lyrics Transliteration (English)

oma mahAkAla ke kAla tuma ho prabho
guNa ke AgAra satyama shivama suMdarama|
kara meM DamarU lase chaMdamA bhala para
ho nirAkAra satyama shivama suMdarama||

haiM jaTAbIcha maMdAkinI kI ChaTA
muMDamAlA galebIcha shobhita mahAM|
kaMTha meM mAla viShadhara lapeTe hue
karake shrRRiMgAra satyama shivama suMdarama||

baiThe kailAsha parvata para Asana lagA
bhasma tana para ho apane lagAe hue|
hai nirAlI tumhArI ye anupama ChaTA
sabake AdhAra satyama shivama suMdarama||

nyArI mahimA tumhArI hai trayaloka me
bhole bhaMDArI tuma bole jAte prabho|
ambikA aura nirmohI ko Asa hai
kara do uddhAra satyama shivama suMdarama||

ओम महाकाल के काल तुम हो प्रभो Video

ओम महाकाल के काल तुम हो प्रभो Video

See also  परिवार मेरा खुशहाल हो Lyrics | Bhajans | Bhakti Songs
Browse all bhajans by Dinesh Mishra

Browse Temples in India