चल माँ के दर पे पायेगा मौज लिरिक्स

chal maa ke dar pe paayega mauj

चल माँ के दर पे पायेगा मौज लिरिक्स (हिन्दी)

कब तक उठाएगा तू गम का भोज
चल माँ के दर पर पायेगा मौज

कैसा करिश्मा है मैया के दर
सब की ही मिट ती है चिंता फिकर
कितनो के सिर याहा झुकते है रोज
चल माँ के दर पे पायेगा मौज

देश विदेश में है माँ का नाम
कौन है जिसका बना नही काम
भगतो की आती है लाखो में फ़ौज
चल माँ के दर पे पायेगा मौज

बाते बतादे तू माँ को सभी
देर न कर चल शर्मा अभी
इतना भी रणजीत तू मत सोच
चल माँ के दर पे पायेगा मौज

Download PDF (चल माँ के दर पे पायेगा मौज)

चल माँ के दर पे पायेगा मौज

Download PDF: चल माँ के दर पे पायेगा मौज

चल माँ के दर पे पायेगा मौज Lyrics Transliteration (English)

kaba taka uThAegA tU gama kA bhoja
chala mA.N ke dara para pAyegA mauja

kaisA karishmA hai maiyA ke dara
saba kI hI miTa tI hai chiMtA phikara
kitano ke sira yAhA jhukate hai roja
chala mA.N ke dara pe pAyegA mauja

desha videsha meM hai mA.N kA nAma
kauna hai jisakA banA nahI kAma
bhagato kI AtI hai lAkho meM pha़auja
chala mA.N ke dara pe pAyegA mauja

bAte batAde tU mA.N ko sabhI
dera na kara chala sharmA abhI
itanA bhI raNajIta tU mata socha
chala mA.N ke dara pe pAyegA mauja

चल माँ के दर पे पायेगा मौज Video

चल माँ के दर पे पायेगा मौज Video