प्रेम का धागा सांवरे तुम संग
बाँध लिया है भजन लिरिक्स

प्रेम का धागा सांवरे,
तुम संग बाँध लिया है,
हमने तो अपना सबकुछ,
तुमको ही मान लिया है,
प्रेम का धागा साँवरे,
तुम संग बाँध लिया है।।



बात समझ में आ गई सारी,
बस नाम की ये दुनियादारी,
काम किसी के कोई ना आता,
देख ली हमने रिश्तेदारी,
आन पड़े मुश्किल कोई,
दूर हो सब अपने सभी,
अब हमने ये जान लिया है,
जग पहचान लिया है,
जग पहचान लिया है,
प्रेम का धागा साँवरे,
तुम संग बाँध लिया है।।



तेरी शरण में आ गए अब तो,
छोड़ के मतलब के इस जग को,
श्याम तुम्हारी मर्ज़ी पे छोड़ा,
जैसे भी चाहो वैसे ही रखलो,
सुख हो या गम तेरे है हम,
तन और मन ये जीवन,
सब तेरे ही नाम किया है,
दामन थाम लिया है,
दामन थाम लिया है,
प्रेम का धागा साँवरे,
तुम संग बाँध लिया है।।



हाथ कभी ना सर से हटाना,
श्याम कभी तुम दूर ना जाना,
चरणों में तेरे अपना किया है,
श्याम धणी ‘शर्मा’ ने ठिकाना,
दर पे तेरे श्याम मेरे,
काम सभी मेरे हुए,
तूने सबका ही काम किया है,
जग पहचान लिया है,
जग पहचान लिया है,
प्रेम का धागा साँवरे,
तुम संग बाँध लिया है।।



प्रेम का धागा सांवरे,
तुम संग बाँध लिया है,
हमने तो अपना सबकुछ,
तुमको ही मान लिया है,
प्रेम का धागा साँवरे,
तुम संग बाँध लिया है।।

Download PDF (प्रेम का धागा सांवरे तुम संग बाँध लिया है भजन लिरिक्स)

प्रेम का धागा सांवरे तुम संग बाँध लिया है भजन लिरिक्स

Download PDF: प्रेम का धागा सांवरे तुम संग बाँध लिया है भजन लिरिक्स

प्रेम का धागा सांवरे तुम संग बाँध लिया है Lyrics Transliteration (English)

prem ka dhaaga saanvare,
tum sang baandh liya hai,
hamane to apana sabakuchh,
tumako hee maan liya hai,
prem ka dhaaga saanvare,
tum sang baandh liya hai..

baat samajh mein aa gaee saaree,
bas naam kee ye duniyaadaaree,
kaam kisee ke koee na aata,
dekh lee hamane rishtedaaree,
aan pade mushkil koee,
door ho sab apane sabhee,
ab hamane ye jaan liya hai,
jag pahachaan liya hai,
jag pahachaan liya hai,
prem ka dhaaga saanvare,
tum sang baandh liya hai.

teree sharan mein aa gae ab to,
chhod ke matalab ke is jag ko,
shyaam tumhaaree marzee pe chhoda,
jaise bhee chaaho vaise hee rakhalo,
sukh ho ya gam tere hai ham,
tan aur man ye jeevan,
sab tere hee naam kiya hai,
daaman thaam liya hai,
daaman thaam liya hai,
prem ka dhaaga saanvare,
tum sang baandh liya hai..

haath kabhee na sar se hataana,
shyaam kabhee tum door na jaana,
charanon mein tere apana kiya hai,
shyaam dhanee ‘sharma’ ne thikaana,
dar pe tere shyaam mere,
kaam sabhee mere hue,
toone sabaka hee kaam kiya hai,
jag pahachaan liya hai,
jag pahachaan liya hai,
prem ka dhaaga saanvare,
tum sang baandh liya hai..

prem ka dhaaga saanvare,
tum sang baandh liya hai,
hamane to apana sabakuchh,
tumako hee maan liya hai,
prem ka dhaaga saanvare,
tum sang baandh liya hai..

Browse all bhajans by Uma Chauhan

Browse Temples in India